Jaivik Khad Business | जैविक खाद का बिजनेस कैसे शुरू करें | जैविक खाद in English

जैविक खाद का बिजनेस आईडिया, करने से कम लागत मै अच्छा मुनाफा कमा सकते है , केसे करें जैविक खाद का बिजनेस , जानें लाभ और हानि फुल जानकारी।

जैविक खाद क्या है

आइये जानते है जैविक खाद क्या है उदाहरण पशु पक्षियों के मल मूत्र,अवशेष ,वनस्पतियों के पत्ते टहनियों को सड़ा गला कर है फार्म मैं तैयार की जाने वाली खाद को जैविक खाद कहते हैं . यह जैविक खाद पशु पक्षियों के मल मूत्र, वनस्पतियों के पत्ते टहनियों के विघटन से निर्मित होती हैं।

इस प्रकार की खाद को जीवांश खाद या कार्बनिक खाद भी कहा जाता हैं। जैविक खाद बनाने के लिए हमको कच्चे माल के रूप में पशु पक्षियों के मल मूत्र,अवशेष ,वनस्पतियों के पत्ते टहनियों ,शीप मेन्योर, पोल्ट्री मेन्योर, गोबर, कृषि कचरा और रॉक फॉस्फेट की जरुरत होती हैं ।

जैविक खाद के प्रकार

  • जैविक खाद
  • कम्पोस्ट खाद [organic compost]
  • गोबर की खाद
  • वर्मी खाद
  • हरी खाद

कम्पोस्ट खाद क्या है

कम्पोस्ट खाद बनाने की विधि मै विभिन्न प्रकार की फसलों के अवशेष, गन्ने की पत्तियों और पेड़ो की टहनियों को एक गड्डे मै डालकर, सड़कर तैयार की गई खाद को कम्पोस्ट खाद कहते हैं। यह खाद ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्रों मै बनाई और प्रयोग की जाती हैं।

जैविक खाद
image जैविक खाद | Jaivik Khad Business

कम्पोस्ट खाद बनाने की विधि

कम्पोस्ट खाद जैविक खाद का ही एक प्रकार हैं । इसीलिए इसे जैविक खाद भी कहा जा सकता हैं।
कम्पोस्ट खाद बनाने की विधि मै विभिन्न प्रकार की फसलों के अवशेष, गन्ने की पत्तियों और पेड़ो की टहनियों को एक गड्डे मै डाल दिया जाता हैं। उसके बाद उस गड्डे को मिट्टी से भर दिया जाता है.

इस गड्डे को भरते समय इसमें मिट्टी और पेड़ पत्तियों और फसलों के अवशिष्ट की परते बनाई जाती है । जिससे उसमे शुष्म जीवाणुओं द्वारा अपघटन की क्रिया जल्दी होती है ।

जिससे जैविक खाद में कम्पोस्ट खाद बनाने की विधि pdf भी डाउनलोड कर सकते है । कम्पोस्ट खाद बनाने की विधि मै यह खाद जल्दी तैयार हो जाती है । जैविक खाद के लिए सही स्थान गांव आदि को माना जाता है । क्योंकि इस प्रकार की जैविक खाद के लिए कच्चा मॉल गांव मै आसानी से उपलब्ध हो जाता हैं।

कम्पोस्ट खाद में क्या होता है

पेड़ पत्तियों और फसलों के सड़ने से बनी खाद
नाइट्रोजन 0.8% तक
फास्फोरस 0.6%तक
पोटाश की मात्रा 1% तक
साथ ही कम्पोस्ट खाद में होता है गन्ने की पत्तियों, पेड़ो की टहनियों , विभिन्न प्रकार की फसलों के अवशेष,

कम्पोस्ट खाद के फायदे

  • जैविक खाद का फायदे है कि यह सस्ता होता है । इससे फसल की पैदावार मै सीधे असर पड़ता हैं।
  • इससे पोषक तत्व , पेड़ सीधे ग्रहण कर लेते हैं ।
  • इससे मिट्टी की जल को धारण करने की क्षमता अधिक होती है। जिससे पानी की बचत होती है ।
  • इससे फसल की पैदावार क्षमता बढ़ती है।

कंपोस्ट खाद बनाने की विधियां

  • कोयंबटूर विधि
  • इंदौर विधि
  • बंगलुरू विधि

कम्पोस्ट खाद प्राइस 700 से 1000 रूपिये तक प्रति 10किलो होता है।

गोबर की खाद क्या है

गोबर की खाद भी Jaivik Khad ही है। इस प्रकार की जैविक खाद पशुओं के मल मूत्र यानी गोबर और उनके चारे से बनी होती है । इस प्रकार की जैविक खाद को बनाना बहुत आसान होता है। इसके लिए आप इसे एक खुले गड्डे मै या खुले स्थान पर रखकर छोड़ देते हैं।
यह गोबर खुली अवस्था मै होने के कारण हवा की नमी मै लीचिंग तथा वाष्पशीलता के कारण पोषक तत्वों मै बदल जाता है । गोबर की खाद का प्रयोग आप गोबर को कुछ समय तक खुले मे रखकर भी जैविक खाद के रूप मै प्रयोग कर सकते है । गोबर की खाद या जैविक खाद price का रेट 10-20 रूपीस/किलो होता है ।

यह Jaivik Khad सस्ती इसीलिए होती है क्योंकि यह खाद कुछ ही दिनों मै तैयार हो जाती है । मैक्सिमम 40 दिनों के भीतर यह Jaivik Khad तैयार हो जाती है या 40 दिनों के भीतर यह गोबर खाद तैयार हो जाती है ।

हरी खाद की परिभाषा

यह हरी खाद भी Jaivik Khad का एक रूप है ।
हरी खाद उस सहायक हरी फसल को कहते हैं। जिसकी खेती हम साधारण तरीके से पोषक तत्वों को बढ़ाने के लिए किया जाता हैं । यह हरी खाद या जैविक खाद मिट्टी की उर्वरक शक्ति और जैविक पदार्थों की पूर्ति हेतु प्रयोग की जाती है । इस प्रकार की जैविक खाद के लिए , मिट्टी के ऊपर हरी घास की स्थिति मै ही हल चला दिया जाता हैं। हरी खाद का फसल उपजाऊ होता है ।

हरी खाद की विधि

Jaivik Khad खाद मै हरी खाद , फसल के लिए बहुत महत्पूर्ण होती हैं।
हरी खाद के लिए हरी घास वाली फसले कोमल अवस्था मै , मिट्टी में उगाकर छोड़ दी जाती है। कुछ 30 40 दिनों के बाद हरी घास को काटकर गिरा दिया जाता हैं। और इस हरी घास को सड़ने गलने के लिए छोड़ दिया जाता है ।

जब हरी घास सड़ जाती है तो इससे मिट्टी के भौतिक और रासायनिक गुणों में सुधार आता है । और मिट्टी में वायु के कारण , पोषक तत्वों की मात्रा बढ़ती जाती है। साथ ही साथ ही हरी खाद से भूमि में नाइट्रोजन की मात्रा बढ़ती है । Jaivik Khad या हरी खाद में नाइट्रोजन की मात्रा 70 से 150 किलो नाइट्रोजन प्रति हेक्टेयर तक बढ़ जाती है अब आपको समझ आ गया होगा की हरी खाद कैसे बनाये ।

हरी खाद के उदाहरण

  • ग्वार
  • मूंग
  • लोबिया
  • सनई
  • देंचा

हरी खाद के लाभ

  • यह हरी खाद आप घर पर भी बना सकते हैं
  • यह Jaivik Khad या हरी खाद बहुत कम समय में तैयार हो जाती है
  • हरी खाद के लाभ इसको इस्तेमाल करना आसान है
  • हरी खाद से मिट्टी में नाइट्रोजन की मात्रा बढ़ती है
  • यह Jaivik Khad मिट्टी को उपजाऊ बनाती है
  • यह हरी खाद से पोषक तत्वों की मात्रा बढ़ती है ।
  • इस Jaivik Khad से मिट्टी के भौतिक और रासायनिक गुणों में सुधार आता है जिससे हमें अच्छी फसल की प्राप्ति होती है।

आप समझ गए होंगे की क्या हरी खाद के लाभ है ।जिससे आप इसे प्रयोग मै ला सकते हैं।

हरी खाद के उपयोग और हरी खाद के महत्व कृषि में अत्यधिक है । आप इस पर जितना अच्छे से काम करेंगे और जितना कृषि में प्रयोग करेंगे । आपको इतनी अच्छी फसल प्राप्त होगी ।

वर्मी कंपोस्ट खाद क्या है

वर्मी कंपोस्ट एक विशेष प्रकार की जैविक खाद हैं। जो केचुओ द्वारा तैयार की जाती हैं। केंचुओं द्वारा बनाई जाने वाली इस खाद को वर्मी कंपोस्ट खाद कहते हैं। और यह Jaivik Khad बनाने की प्रक्रिया वर्मी कंपोस्टकरण कहलाती हैं।

वर्मी कंपोस्ट खाद बनाने की विधि


आइए जानते है की कैसे आप वर्मी कंपोस्ट खाद तैयार कर सकते हैं।

  • इसके लिए सबसे पहले आपको गोबर को एक साथ रख देना होता है
  • अब इस गोबर मै केंचुओं को छोड़कर , किसी चीज से बंद/ढक कर दिया जाता है ।
  • इस वर्मी कंपोस्ट खाद के निर्माण मै नमी को बनाए रखने के लिए समय समय पर पानी डाला जाता है ।
  • इस गोबर को केंचुओं द्वारा खाया जाता है
  • केंचुओं द्वारा इस गोबर को खाने के बाद ,जो मल छोड़ा जाता है। उसे वर्मी कंपोस्ट खाद बनकर तैयार होती है ।

वर्मी कंपोस्ट खाद के मिश्रण मै कास्टिंग , केंचुओं का मल और केंचुए पाए जाते है । अब आप समझ गये होंगे की जैविक खाद कैसे बनाएं | हमने आपको 4 प्रकार की Jaivik Khad बताई है साथ ही बनाने की विधि भी |

जैविक खाद कंपनी के नाम

  • सिनजेंटा एजी
  • बायर क्रॉप साइंस
  • बीएएसएफ एसई
  • डॉव एग्रो साइंसेज
  • एफएमसीअदामा लिमिटेड
  • न्यूट्रीचैम कंपनी लिमिटेड
  • यूपीएल लिमिटेड
  • सुमितोमो केमिकल कं, लिमिटेड

कुछ जैविक खाद कंपनियों के नाम इस प्रकार हैं । यह जैविक खाद कंपनियां राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय दोनों स्तर पर हैं । इनके जैविक खाद प्लांट बहुत बड़े है लेकिन आप भी एक छोटे लेवल पर शुरु कार सकते है |

जैविक खाद व्यवसाय कैसे करें

इस व्यवसाय को करने के लिए आपको एफएसएसएआई मैं अपना व्यवसाय रजिस्टर करवाना होगा । अगर आपको एफएसएसएआई से लाइसेंस प् प्राप्त हो जाता है । तो उसे भारत में आप अपने व्यवसाय के लिए यूज कर सकते हैं। लाइसेंस केवल 5 वर्ष के लिए मान्य होता है
और आप जान ही चुके हैं कि कैसे आप खाद तैयार करेंगे

Apply for New License/Registration

आवश्यक डाक्यूमेंट्स

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • बैंक स्टेटमेंट
  • एनओसी
  • व्यापार समझौता
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • राशन कार्ड

अगर आपके पास इनमें से कोई डॉक्यूमेंट नहीं है तो आपको लाइसेंस नहीं दिया जाएगा ।

जैविक खाद के लिए लेबलिंग

  • खाट पैकेट के ऊपर संबंधित सामग्री से संबंधित जानकारी का उल्लेख
  • खाद के शाकाहारी और गैर शाकाहारी होने की जानकारी
  • अर्थ की मात्रा किलो में
  • खाद निर्माण तिथि
  • पदार्थ की समाप्ति तिथि
  • नियम, पालन और निर्देश

जैविक खाद व्यवसाय शुरू करने में लागत

Jaivik Khad बनाने का व्यवसाय अगर आप अपनी निजी जमीन गांव या घर के आसपास की जगह में शुरू करते हैं। तो यह कम से कम एक लाख रुपए से शुरू हो सकता है । अगर आप इसे कहीं अन्य स्थान पर जमीन किराए पर लेकर करते हैं । तब इसमें आपका 10 लाख या ज्यादा का खर्चा आ सकता है।

जैविक खाद कहां बेचे

आज का मनुष्य पढ़ा लिखा है और वह पढ़े लिखे होने के साथ-साथ अपने स्वास्थ्य के लिए भी जागरूक है इसलिए वह पासवर्ड और केमिकल युक्त चीजों से बचना चाहता है अब लोग केमिकल युक्त पदार्थों के स्थान पर जैविक खाद पदार्थों की मांग कर रहे हैं इसलिए वर्तमान में जैविक खाद की डिमांड बहुत अधिक बढ़ रही है और किसान भी इनका उत्पादन खूब कर रहे हैं।

यह आपके आसपास की दुकानों में बहुत ही आसानी से उपलब्ध है इसलिए आप इसे अपने आसपास की दुकानों या स्टोरों में भी भेज सकते हैं साथ ही न्यूज़पेपर में आर्टिकल छपवा कर भी अपने बिजनेस को बढ़ा सकते हैं यह बहुत सस्ती खाद है जिसे लोग आसानी से और जल्दी खरीदते हैं

read more

जैविक खाद का मतलब क्या होता है?

यह जैविक खाद पशु पक्षियों के मल मूत्र, वनस्पतियों के पत्ते टहनियों के विघटन से निर्मित होती हैं। इस प्रकार की खाद को जीवांश खाद या कार्बनिक खाद भी कहा जाता हैं। जैविक खाद बनाने के लिए हमको कच्चे माल के रूप में पशु पक्षियों के मल मूत्र,अवशेष ,वनस्पतियों के पत्ते टहनियों ,शीप मेन्योर, पोल्ट्री मेन्योर, गोबर, कृषि कचरा और रॉक फॉस्फेट की जरुरत होती हैं ।

जैविक खाद कैसे बनाई जाती है?

कम्पोस्ट खाद जैविक खाद का ही एक प्रकार हैं । इसीलिए इसे जैविक खाद भी कहा जा सकता हैं।
कम्पोस्ट खाद बनाने की विधि मै विभिन्न प्रकार की फसलों के अवशेष, गन्ने की पत्तियों और पेड़ो की टहनियों को एक गड्डे मै डाल दिया जाता हैं। उसके बाद उस गड्डे को मिट्टी से भर दिया जाता है. इस गड्डे को भरते समय इसमें मिट्टी और पेड़ पत्तियों और फसलों के अवशिष्ट की परते बनाई जाती है । जिससे उसमे शुष्म जीवाणुओं द्वारा अपघटन की क्रिया जल्दी होती है ।

घर में खाद कैसे तैयार करें?

आप घर मे छोटे स्तर पर गोबर खाद बना सकते है |

जैविक खाद के फायदे क्या हैं?

जैविक खाद का महत्व है कि यह सस्ता होता है । इससे फसल की पैदावार मै सीधे असर पड़ता हैं।
इससे पोषक तत्व , पेड़ सीधे ग्रहण कर लेते हैं ।
इससे मिट्टी की जल को धारण करने की क्षमता अधिक होती है। जिससे पानी की बचत होती है ।
इससे फसल की पैदावार क्षमता बढ़ती है।

प्राकृतिक खाद कौन सी है?

जैविक खाद
कम्पोस्ट खाद [organic compost]
गोबर की खाद
वर्मी खाद
हरी खाद

एक एकड़ मे कितना जैविक खाद देना चाहिए ?

15 से 20 क्विंटल प्रति एकड़ की दर से जैविक खाद

जैविक खाद बिजनेस के लिए कितना पैसा इन्वेस्ट करना होता है?

50 हजार से 1 लाख तक

जैविक खाद बिजनेस से आप कितना पैसा कमा सकते हैं?

महीने के कम से कम 50 हजार

एफएसएसएआई राज्य लाइसेंस कब जारी करती है ?

जब व्यवसाय का टर्नओवर ₹1200000 से ज्यादा का हो।

एफएसएसएआई सेंट्रल लाइसेंस कब जारी करती है ?

यदि व्यवसाय का टर्नओवर या कारोबार 20 करोड़ से अधिक का हो तब एफएसएआई के द्वारा सेंट्रल लाइसेंस प्रदान किया जाता है।

कंटेन्ट राइटिंग क्या है, कैसे करें, पैसे कमाएँ? | What is Content Writing in Hindi 2022


content writer और content writing services क्या है . how to start career as a writer फुल जानकारी हिंदी मै।

article क्या है

जिसमे हम किसी एक विषय / वस्तु के बारे मे जानकारी देते है या उसके बारे मै लिखते है . उसे article कहते है।

content writing या article writing क्या है

किसी भी विषय पर अधिक से अधिक जानकारी देना. content writing कहलाता है. जो इसे लिखता है उसे content writer कहते है ।

 content writing

image content writing

write blog articles क्या है

जो article हमको किसी एक विषय पर सम्पूर्ण जानकारी देता है । उसे ही ब्लॉग कहते है या blog article kehte है.
इस प्रकार blog लिखना ही , write blog articles है ।

अभी आपको समझ आ गया होगा की article क्या है, content writing या article writing क्या है blog articles क्या है ।
अब हम आपको बताएंगे की how to start a career as a writer ( आर्टिकल लिखना को केसे करियर बनाएं ) और how to write article in hindi और इंग्लिश। how to start content writing from home and earn money ( article को घर से कैसे लिखे और पैसे कमाएं ) ।
अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आ रहा है तो इसे शेयर करे और comment जरूर करें।

content writing करने से लाभ

  • article writing करने से आपमें writing की स्किल आयेगी।
  • article writing एक smart work हैं।
  • आज के समय मै सभी काम कॉपी पैन से नही किए जाते है सभी कामों को writing के जरिए phone या लेपटॉप मै किया जाता हैं
  • article writing के जरिए आप अपनी blog website बना सकते है।
  • article writing एक digital marketing का पार्ट हैं । और आप जानते है की digital marketing से कैसे आप लाखो पैसे earn कर सकते हैं।
  • आप कितने भी content writing cources को ज्वाइन कर लीजिए , आप परफेक्ट article writer नही बन पाएंगे, जब तक आप खुद से content writing नही करते हैं।
  • article writing से आप लाखो earn कर सकते हैं।
  • article writing से आपके लिए digital marketing को समझना आसान हो जाता है।
  • article writing को आप part time भी कर सकते हैं और लाखो earn कर सकते हैं।
  • article writing से आपकी skill development होती हैं।
  • article writing से आपकी reserch skill बढ़ती है।
  • अगर आप article writing हिंदी मै करते है तो आपकी हिंदी भाषा अच्छी होती है और अगर आप content writing in English मै करते है तो आपकी vocabulary बढ़ती है।
  • article writing आपको रोचक जानकारी और आंकड़ों की जानकारी देती है । जिससे आपकी knowledge बढ़ती है
  • article writing easy होती हैं।
  • आप article writing को अपना carrier भी बना सकते हैं।
  • article writing के लिए आपकी किसी जगह की जरूरत नही होती हो आप इसे घर के किसी भी कोने से सुरु कर सकते हैं।
  • आपको article writing को ऑनलाइन कर पैसे earn करने हैं । इसीलिए आपको किसी विशेष साधन की जरूरत नही होती है ।
  • आप जिसे पड़ रहे है यह भी content writing के लिए एक article हैं।आप इसे पूरा पड़ समझ सकते है की content कैसे लिखा जाता है ।

how to start content writing from home

अगर आप article writing को घर से सुरु करना चाहते है । तो आप इसे बहुत ही आसानी से घर से सुरु कर सकते है। article writing , एक skill है, जिसका प्रयोग कर के आप आसानी से पैसे कमा सकते है । आप इसे घर से सुरु कर सकते है । content writing के लिए आपको किसी विशेष स्थान की जरूरत नही होती है । आपको पता होना चाहिए की कैसे content writing की जाती है और फिर आप लिखना सुरु कर सकते है ।

article writing ko घर से लिखने के लिए आपको कुछ चीजों की जरूरत होती है जैसे – एक इंटरनेट कनेक्शन और कंटेंट लिखने के लिए आपका Android phone या लेपटॉप । सिर्फ इन चीजों के सहारे आप एक अच्छा content तैयार कर सकते हैं । और पैसा earn कर सकते हैं। आप अपनी एक वेबसाइट बनाकर उसमें किसी एक टॉपिक पर complete जानकारी (content writing द्वारा ) देकर earn कर सकते है। आप इसे फ्री और paid दोनो माध्यम मे कर सकते है।

content writing examples आपको देखना है तो आप हमारे इस write articles and earn money in india को अच्छे से समझ सकते है और देख सकते है की कैसे content writing की जाती हैं। और content writing के लिए आप हमारी वेबसाइट vyapardhan.com पर विजिट कर सकते हैं।

content writing services

content writing service , article writing से जुड़ी हुई है । जब आप article writing दूसरो लोगो की website या उनके लिए करते हैं । तो आपको इसके लिए पैसे की earning होती हैं। इसे ही article writing services कहते हैं। आजकल content writing services बहुत ही फास्ट grow कर रही हैं। और जिसके जरिए आप बहुत पैसे की कमाई कर सकते है ।

content writing services कैसे करें

content writing services को आप अपने किसी मित्र और किसी blogger के लिए सुरु कर सकते है और बदले मै आप उससे पर article के लिए पैसे चार्ज कर सकते है ।
या आप article writing को freelancing website के माध्यम से दूसरे लोगो के लिए कर सकते है । इसके लिए आपको freelancing website पर आपको अपना acxount बनाना होगा ।

how to start freelance writing with no experience

किसी भी experience के बिना भी आप writing कर सकते है। आपमें थोडी सी skill होनी चाहिए। साथ ही आप google और youtube के माध्यम से हेल्प लेकर एक अच्छा आर्टिकल ready कर सकते है।

how to start a career as a writer

अगर आप एक कंटेंट राइटर के रूप में खुद का कैरियर बनाना चाहते हैं तो आपके पास बहुत ऑप्शन है जैसा हमने आर्टिकल में बताया भी है कि आप खुद की वेबसाइट बनाकर contain writing कर पैसे earn कर सकते हैं और दूसरों के लिए भी कंटेंट लिखकर भी कमाई की जा सकती है
इसके कंप्लीट जानकारी के लिए क्लिक करें ।

साथ ही आप इन में भी कैरियर बना सकते हैं ।

Search Engine Optimization


What is content writing?

ANS-किसी भी विषय पर अधिक से अधिक जानकारी देना. content writing कहलाता है. जो इसे लिखता है उसे content writer कहते है ।

How do I start content writing?

article writing ko घर से लिखने के लिए आपको कुछ चीजों की जरूरत होती है जैसे – एक इंटरनेट कनेक्शन और कंटेंट लिखने के लिए आपका Android phone या लेपटॉप । सिर्फ इन चीजों के सहारे आप एक अच्छा content तैयार कर सकते हैं । और पैसा earn कर सकते हैं। आप अपनी एक वेबसाइट बनाकर उसमें किसी एक टॉपिक पर complete जानकारी (content writing द्वारा ) देकर earn कर सकते है। आप इसे फ्री और paid दोनो माध्यम मे कर सकते है।

Is content writing easy?

YES , article writing easy होती हैं। आप इसे बहुत आसानी से घर से शुरु कर सकते है |

How can I learn content writing at home?

अगर आप article writing को घर से सुरु करना चाहते है । तो आप इसे बहुत ही आसानी से घर से सुरु कर सकते है। article writing , एक skill है, जिसका प्रयोग कर के आप आसानी से पैसे कमा सकते है । आप इसे घर से सुरु कर सकते है । content writing के लिए आपको किसी विशेष स्थान की जरूरत नही होती है । आपको पता होना चाहिए की कैसे content writing की जाती है और फिर आप लिखना सुरु कर सकते है ।

How do I become a content writer with no experience?

किसी भी experience के बिना भी आप writing कर सकते है। आपमें थोडी सी skill होनी चाहिए। साथ ही आप google और youtube के माध्यम से हेल्प लेकर एक अच्छा आर्टिकल ready कर सकते है।

Which content writing course is best?

सभी content writing course सही है | यह डिपेंड आप पर करता है की आप कितना time उस कोर्स को देते है और साथ ही कितना PRACTICAL WORK करते हो |

what is the content writer average salary in india?

content writer average salary की कोई लिमिट नही है , bloggers INDIA मे minimum 50 हजार से लाखो तक कमा रहे है

fast food business plan in hindi, फास्ट फूड बिजनेस | fast food business in India

फास्ट फूड बिजनेस या  कम लागत का बिजनेस आप कैसे कर सकते है   junk food बिजनेस करने का तरीका , लाभ  और हानि 2022

इंसान अपनी जिंदगी में जितना भी पैसा कमाता है । वह अपनी शान शौकत और खाने-पीने  अर्थात अपने पेट के लिए कमाता है । ऐसे में टेस्ट के लिए फास्ट फूड या जंक फूड को ज्यादा वैल्यू दे रहा है । दिन प्रतिदिन फास्ट फूड बिजनस मैं फास्ट फूड की डिमांड बढ़ती जा रही है । अगर आप  फास्ट फूड बिजनेस शुरू करना चाहते हैं । तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़िए । इसमें आपको फास्ट फूड से जुड़ी सभी जानकारियां दी जाएंगी ।

फास्ट फूड बिजनेस क्या है

हम सभी ने अपने जीवन में कभी न कभी फास्ट फूड खाया ही होगा . आज हम सभी रोज  फास्ट फूड खाते हैं । जैसे मानो कि फास्ट फूड हमारे जीवन का एक हिस्सा बन गया हो ।

 फास्ट फूड IMAGE

हम सभी जानते हैं की फास्ट फूड एक अंग्रेजी शब्द है जिस का हिंदी अर्थ तीव्र भोजन है । इसलिए सीधे शब्दों में फास्ट फूड का अभिप्राय तीव्र गति से तैयार भोजन से है ।

फास्ट फूड बिजनेस मैं आप वेज और नॉनवेज दोनों प्रकार का भोजन तैयार करते हैं । इसमें पिज्जा, बर्गर, डोसा, आलू टिक्की, मोमोस, चाऊमीन, ढोकला, बटाटा, एग रोल, नूडल्स, स्प्रिंग रोल, आदि शामिल है । इसी प्रकार के  फास्ट फूड भोजन को बेचना ही फास्ट फूड बिजनेस है ।

फास्ट फूड बिजनेस के लिए बिजनेस प्लान

आपका आधा बिजनेस तो तब सफल हो जाता है जब आप अपने बिजनेस का एक प्रॉपर बिजनेस प्लान बनाते हैं । अपने पासवर्ड बिजनेस के लिए एक अच्छा सा बेहतरीन बिजनेस प्लान बनाएं । और उस प्लान के अकॉर्डिंग बिजनेस को शुरू करें । जिससे आपको फास्ट फूड बिजनेस में अच्छे लाभ प्राप्त होने की अधिक संभावना होगी ।

फास्ट फूड बिजनेस के लिए स्थान का चयन

किसी भी बिजनेस का सफल होना उसके सही स्थान का चुनाव पर भी निर्भर करता है । स्थान का चुनाव बहुत जरूरी है । फास्ट फूड कैसे बिजनेस के लिए हमें भीड़भाड़ वाली जगह का चयन करना होगा यदि इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आप किसी ऐसे स्थान जहां पर अत्यधिक लोगों का आना जाना जैसे स्कूल , कॉलेज, बस स्टैंड, यूनिवर्सिटी, रेलवे स्टेशन, हॉस्पिटल, टूरिस्ट प्लेस, ऑटो स्टैंड , स्ट्रीट फूड जहां पर अत्यधिक लोग आते हो यह किसी अच्छी मार्केट , जहां अधिक भीड़ हो । जैसे स्थान का चुनाव कर सकते हैं ।

भारत में फास्ट फूड बिजनेस के प्रकार

  • इंडियन फास्ट फूड बिजनेस
  •  चाइनीस फास्ट  फूड बिजनेस
  •   वेज फास्ट फूड बिजनेस
  •  नॉन वेज फास्ट फूड बिजनेस
  • कॉन्टिनेंटल वेज फूड बिजनेस
  •  कॉन्टिनेंटल नॉनवेज फूड बिजनेस
  • इटालियन फास्ट फूड बिजनेस
  •  गुजराती फास्ट फूड बिजनेस
  • साउथ इंडियन फास्ट फूड बिजनेस

फास्ट फूड बिजनेस को शुरू करने के लिए रॉ मैटेरियल्स

फास्ट फूड बिजनेस को शुरू करने के लिए लगने वाला रो मटेरियल बहुत ही आसानी से मिल जाएगा । इसके लिए आप अपने नजदीकी किराना स्टोर, सुपर मार्केट, मॉल , आदि  से आसानी से खरीद सकते हैं

   फास्ट फूड बिजनेस के लिए लगने वाला रो मटेरियल

  • आटा
  •  मैदा
  •  रिफाइंड
  • ब्रेड
  • ग्रीन वेजीटेरियन
  • नमक
  • मसाला
  •  म्योनीज
  •  नूडल्स
  •  मिल्क
  •  बटर

फास्ट फूड बिजनेस के लिए कौन सा रजिस्ट्रेशन करवाना होगा

फास्ट फूड  में आप प्रॉपर बिजनेस करना चाहते हैं ।  तो आपको इसके लिए एक रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट बनवाना होगा । फास्ट फूड का बिजनेस खाद्य बिजनेस के अंतर्गत आता है । इस बिजनेस में सबसे पहले हमको फूड सेफ्टी के अंतर्गत अपने बिजनेस को रजिस्टर करवाना होगा । अर्थात हमको अपने बिजनेस को FSSAI  के अंतर्गत रजिस्टर करवाना होगा । जो एक अनिवार्य प्रोसेस है

fast food restaurant names

आप अपने फास्ट फूड रेस्टोरेंट का नाम थोड़ा यूनिक स्टाइलिश रखें जैसे लोगों को बोलने में और सुनने में बहुत अच्छा लगे और लोग अट्रैक्ट हो आपके नाम की तरफ .

fast food counter

 आपको fast food counter design को बहुत ही अच्छी तरह से बनवाना होगा। जो इस प्रकार हो कि वह आपके Food display counter  का काम करें । आप अपने काउंटर के लिए wooden fast food counter  या  Steel counter भी बना सकते है । इसको आप fast food counter manufacturers  से भी बनवा सकते है और  second hand fast food counter का भी प्रयोग कर सकते है ।

फास्ट फूड बिजनेस के लिए उपकरण

अगर बात की जाए कि fast food restaurant equipments cost in India  तो यहां ज्यादा नहीं है आप कम प्राइस में फास्ट फूड के उपकरणों को खरीद सकते हैं जिससे आप फास्ट फूड का बिजनेस आसानी से शुरू कर सकते हैं

fast food restaurant items list

  • बर्नर
  • ovens
  •  mixer
  • vegetable
  •  cutters
  • choppers
  • cattles
  •  pants
  • bridals
  • stream
  • plates
  •  spoons
  • knife
  • soup bowl

fast food business ko karne se labh hai

  • यह एक कम निवेश वाला व्यवसाय है ।
  • फास्ट फूड एक सस्ता और ऊर्जावान फूड है
  • वर्तमान समय में फास्ट फूड एक अधिक प्रचलित फूड है जिसे लोग अत्यधिक खाना पसंद करते हैं
  • यह ऐप सस्ता फास्ट फूड आइटम है
  • इसमें कमाई के बहुत से साधन है।
  • इसमें लगने वाला रो मटेरियल और उपकरणों की कीमत कम है।

फास्ट फूड रेस्टोरेंट  खोलने के लिए कितना पैसा चाहिए

आपको फास्ट फूड रेस्टोरेंट खोलने के लिए किसी ज्यादा पैसों की जरूरत नहीं है। यह आप पर डिपेंड करता है कि आप इसको किस स्तर पर खोलते हैं । आप इसको एक छोटे स्टॉल के रूप में भी बोल सकते हैं  । जिसमें आपका 15 से 20000- 25000 तक मैं यहां व्यवसाय शुरू हो सकता है ।

अगर आप एक अच्छा रेस्टोरेंट के रूप में फास्ट फूड रेस्टोरेंट खोलना चाहते हैं।  तो इसमें आपका 5 से 10 लाख रुपए तक निवेश हो सकता है ।

अब आपको समझ में आ गया होगा कि कैसे आप एक फास्ट फूड बिजनेस को शुरू कर सकते हैं और आपको कितना इन्वेस्टमेंट करने की जरूरत है । अगर आपको यहां ठीक कर अच्छा लगा तो इसे शेयर कीजिएगा और कमेंट कीजिएगा ।

APPLY FOR LICENCE

CLICK HERE

READ MORE

  1. बिना coding कैसे बनाएं android app ,फ्री में और पैसे कमाएं
  2. नाई की दुकान कैसे शुरू करे | How to Start a Salon with Small Investment
  3. जूस की दुकान कैसे खोलें | best Juice Shop Business Plan in Hindi 2022
  4. पेट्रोल पंप कैसे खोले डीलरशिप विज्ञापन 2022, Petrol Pump Dealership अप्लाई ऑनलाइन फॉर्म

बिना coding कैसे बनाएं android app ,फ्री में और पैसे कमाएं

android app कैसे बनाएं बिना कोडिंग,  के हर कोई बना सकता है  android app । साथ ही बनाए गए एंड्राइड ऐप से कैसे पैसे कमाए.

android app क्या है?

आजकल  हर कोई android app फोन का यूजर है । मार्केट में सबसे ज्यादा वैल्यू android app फोन की है। क्योंकि यह एक पर्याप्त पैसों में मार्केट में उपलब्ध है । जिसे हर कोई आसानी से खरीद सकता है . हम अपने आज के समय में किसी भी फंक्शन, किसी भी वेबसाइट,  या किसी भी गेम, को खेलना या किताबें पढ़ना या  शॉपिंग करना, या अन्य कुछ भी काम के लिए कुछ करना चाहते हैं,

तो हमें किसी ब्राउज़र पर ना जाकर डायरेक्ट उसके लिए एक android app का प्रयोग कर सकते हैं,  android app के माध्यम से हम किसी एक ही टॉपिक पर कंप्लीट जानकारी या फिर हमें जो उस एप्लीकेशन पर काम करना है,

हम उसी के बारे में काम कर सकते हैं ।  साथ ही हमें किसी ब्राउज़र या सर्च इंजन में जाने की जरूरत नहीं है.

अगर आज के समय में आपको अपने फोन में कुछ भी नया फंक्शन चाहिए.  तो आप उसके लिए एक सिंपल सी प्ले स्टोर से  एंड्राइड ऐप डाउनलोड कर उस सर्विस का लाभ उठा सकते हैं।  यह एक बहुत ही आसान सिंपल सा प्रोसेस है ।

android क्या है?

android एक  ऑपरेटिंग सिस्टम है। जो हमारे फोन को एक बेहतरीन इंटरफ़ेस देता है । जिससे हमें फोन को चलाने में बहुत आसानी और अच्छा लगता है।  एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम को स्मार्ट ऑपरेटिंग सिस्टम भी कहा जा रहा है ।  हम सभी कोई ना कोई मोबाइल का प्रयोग करते हैं. या कर रहे हैं । जो किसी न किसी ऑपरेटिंग सिस्टम पर उपलब्ध है.

आज के समय में सबसे ज्यादा पॉपुलर एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम है. जैसे हमारा फोन एंड्राइड सिस्टम पर चलता है उसी प्रकार लैपटॉप विंडोज आईओएस ऑपरेटिंग सिस्टम का प्रयोग करते हैं

दोस्तों अब आपको समझ में आ गया होगा कि एंड्राइड क्या है. अगर आपको यह अच्छा लगा, तो प्लीज इस आर्टिकल को शेयर कीजिएगा और कमेंट कीजिएगा.

कुछ android app के उदाहरण

  • swiggy
  • swiggy
  • Zomato
  • Flipkart
  • lenskart
  • Myntra
  • Amazon
  • pubg
  •  games
  • dream11
  • shayari
  • stories
android app

App development kya hai

अगर आप किसी प्रकार की कोई एंड्राइड ऐप बनाना चाहते हैं तो उसी को  App development कहा जाता है । App development में ऐप को डिजाइन करना ,विजुलाइजेशन करना, और फाइनल टेस्ट टेस्टिंग की जाती है, इस प्रक्रिया के बाद आपकी एक एंड्राइड है या मोबाइल एप तैयार होती है । app  development मे आप  computer, Android और  iOS के लिए एप्लीकेशन नया ऐप बना सकते हैं। इसके लिए आपको कुछ कोडिंग जैसे एचटीएमएल और जावा, सी प्लस प्लस लैंग्वेज की नॉलेज होना जरूरी होता है । लेकिन कुछ ऐसे भी प्लेटफार्म है जहां पर आप बिना किसी लैंग्वेज और कोडिंग के भी ऐप तैयार कर सकते हैं ।

Android app kaise banaye

एंड्राइड ऐप बनाना एक बहुत ही मुश्किल काम नहीं है। आप थोड़ी मेहनत कर android app बना सकते हैं। और आप किसी अन्य पार्टी की सहायता से भी अपने लिए android app बना सकते हैं। और बहुत सारी ऐसी वेबसाइट है। जो आपको android app बना कर देती हैं ।और जो आपको android app बनाने में हेल्प करती हैं। आप उनकी सहायता से भी android app बना सकते हैं।

अगर आप android app बनाना चाहते हैं तो इसमें आपको कुछ पैसों की इन्वेस्टमेंट करनी होगी।

अगर आप चाहते हैं कि आप android app खुद से बनाएं तो हम आपको बताएंगे कि आप कैसे एक android app बना सकते हैं और अर्निंग  शुरू कर सकते हैं.

एंड्राइड ऐप बनाने के लिए सबसे पहले आपको किसी एक वेबसाइट में जाकर अपने ऐप का नाम का चयन करना होगा . कुछ वेबसाइट जिसमें आप अपनी आपका नाम का चयन कर सकते हैं

  • appy pie appmaker
  • appsgeyser
  • appspotr
  • ibuildapp
  • mobincube
  • appyet

appsgeyser se app kaise banaye

apps geyser से ऐप बनाना एक बहुत ही साधारण प्रोसेस है. जिससे कोई भी व्यक्ति बहुत ही आसानी से अपने लिए कुछ ही समय में एक अच्छा  एंड्राइड ऐप बना सकता है. इससे कोई भी व्यक्ति अपने लिए अपने मोबाइल से फ्री में एंड्रॉयड ऐप बना सकता है ।चलिए शुरू करते हैं , कि कैसे आप कुछ साधारण से स्टेप में अपने लिए एक android app बना सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको किस कैटेगरी में एंड्राइड ऐप बनाना है उसका नाम सोच कर रख लेना है
  • अब आपको अपने क्रोम ब्राउजर में appsgeyser website को ओपन करना है
  • उसके बाद आपको एक बड़ा सा इंटरफेस दिखेगा जिसमें आपको create now पर क्लिक करना है
  • अब आपको दो ऑप्शन दिखाई देंगे other app  और दूसरा app for business
  • अब आपको अदर ऐप मैं क्लिक करना है
  • इसमें आपको बहुत सारे categery  ऑप्शन दिखाई देंगे
  • जिस categery में आप अपना android app बनाना चाहते हैं या अपनी वेबसाइट का ऐप बनाना चाहते हैं उसे सेलेक्ट कर लीजिए।
  • कैटेगरी सेलेक्ट कर लेने के बाद आप अपनी वेबसाइट का URL  सबमिट कर दें
  • अगर आप दूसरा कोई android app बना रहे हैं तो उसके लिए आपको किसी url की जरूरत नहीं है
  • URL सबमिट करने के बाद आपको कुछ ऑप्शन दिखाई देंगे .
  1. app setting
  2. app name
  3. description
  4.  icon
  5.  create
  • सेटिंग में आपको कुछ भी नहीं करना होता है
  • android app नेम इसमें आपको अपने ऐप का नाम देना है
  • डिस्क्रिप्शन मैं आपको अपने ऐप से जुड़ी जानकारी और लोगों को अपनी एंड्राइड एप्प के बारे में बताना है
  • आईकॉन मैं आप अपनी android app का लोगो या फोटो लगा सकते हैं.
  • यहां सभी इंफॉर्मेशन डालने के बाद आपको क्रिएट पर क्लिक करना है
  • इसके बाद आपसे ईमेल आईडी और न्यू पासवर्ड एंटर करने को कहा जाएगा
  • ईमेल आईडी और पासवर्ड डालने के बाद आपको साइन अप कर क्लिक करना है
  •   इसके बाद आपकी ईमेल आईडी को वेरीफाई किया जाएगा * जिसमें आपको एक ईमेल आएगा , और आपको उसमें वेरीफाई पर क्लिक करना होगा , जिसके बाद आपकी ईमेल वेरीफाई हो जाएगी।
  • वेरीफाई पर क्लिक करने के बाद आप appsgeyser के ही होम पेज यानी डैशबोर्ड पर पहुंच जाएंगे
  • अब आपका मोबाइल ऐप बनकर तैयार हो गया है,  और आप उसे डाउनलोड कर इंस्टॉल कर सकते हैं , नीचे डाउनलोड ले पर क्लिक करते ही आप कुछ ही मिनट के बाद अपना देख सकते हैं।

दोस्तों आपको अब समझ आया होगा कि आप कुछ ही समय में बहुत ही आसान स्टेप को फॉलो कर, कैसे  एंड्राइड ऐप तैयार कर सकते हैं , अगर आपको यह तरीका समझ में आया। और आसान लगा तो इस आर्टिकल को शेयर कीजिएगा ,और कमेंट कीजिए।

appsgeyser से android app बनाने का फायदा

  • यह बिल्कुल फ्री है इसमें किसी प्रकार का कोई चार्ज नहीं है
  • आप कुछ सैंपल से स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस को फॉलो कर एक ऐप तैयार कर सकते हैं
  • इस पर ऐप बनाना कोई महान  काम नहीं है ना ही इस में ऐप बनाने के लिए आपको किसी कोडिंग या स्पेशल लैंग्वेज की जरूरत होती है
  • आप इसमें अपना मनपसंद ऐप बना सकते हैं

READ MORE

READ IN ENGLISH

How to create android app without coding, and earn more money for free.

How to make an android app without coding, everyone can create an android app. Also how to make money from the Android app created.

What is Android?

Android is an operating system. Which gives our phone a great interface. This makes it very easy and good for us to run the phone.  The Android operating system is also called the smart operating system.  We all use some kind of mobile. or are. which is available on some operating systems. The most popular Android operating system in today’s time is. Just as our phone runs on the Android system, laptops use Windows iOS operating system

Friends, now you must have understood what Android is. If you liked it, please share this article and comment.

What is android app?

Nowadays, everyone is a user of an Android phone. The highest value in the market is that of Android phones. Because it is available in the market for a sufficient amount of money. Which everyone can easily buy. If we want to do something for any function,  any website, or any game,  or anything else to work in today’s time, or reading books or shopping, or anything else,

 we can use an android app for it directly, not going to a browser, through the Android app we have complete information on a single topic or we have to work on that application, We can work about that.  Also, we don’t have to go to a browser or search engine.

If in today’s time you need anything new on your phone.  So you can take advantage of that service by downloading the Android app from a Simple Sea Play Store for that.  It’s a straightforward process.

Some examples of android app  

  • swiggy
  • swiggy
  • Zomato
  • Flipkart
  • lenskart
  • Myntra
  • Amazon
  • pubg
  •  games
  • dream11
  • shayari
  • stories

WHAT IS App development

If you want to create an Android app of any kind, it is called app development. In-app development, app designing, visualizing, and final test testing are done, after this process, you have an Android or mobile app ready.  In-app development, you can create a new app for computers, Android, and iOS. For this, you need to have knowledge of some coding such as HTML and Java, C plus plus language. But there are some platforms where you can create the app without any language and coding.

HOW TO MAKE Android app

Creating an Android app is not a very difficult task. You can work a little harder to make an android app. And you can also make an android app for yourself with the help of another party. And there are a lot of such websites. Which makes you an android app. And those that help you build an android app. You can also make an android app with their help.

If you want to make an android app, then you have to invest some money in it.

If you want to make an android app by yourself, we’ll tell you how you can make an android app and start earning.

To create an Android app, first of all, you have to go to one of the websites and select the name of your app. Some websites on which you can choose your name

  • appy pie app-maker
  • appsgeyser
  • appspotr
  • ibuildapp
  • mobincube
  • appyet

how to make app with appsger

Creating apps from apps geyser is a straightforward process so that anyone can very easily create a good Android app for themselves in no time. Let’s start, with how you can create an android. app for yourself in some simple steps.

  • First of all, you have to think about the name of the category in which you want to build an Android app
  • Now you have to open the appsgeyser website in your Chrome browser
  • After that, you will see a big interface in which you have to click on create now
  • Now you will see two options , the other app  and the other app for business.
  • Now you have to click on the other app
  • In this, you will see a lot of category  options
  • Select the category in which you  want to create your android.app or create an app for your website.
  • After selecting the category, you should submit  the URL  of your website
  • If you are creating another ANDROID app then you don’t need any URL  for it.
  • *After submitting the URL, you will see some options.
  1.  app setting
  2. app name
  3. description
  4.  icon
  5.  create
  • You don’t have to do anything in the settings
  • android app name in which you have to name your app
  • Description I have to tell you about the information associated with my app and people about my Android app
  • In the icon I you can put the logo or photo of your android app.
  • After entering all the information here you have to click on Create
  • After this, you will be asked to enter the email ID and new password
  • *After entering the email ID and password, you have to sign up and click
  • *  After this your email id will be verified* in which you will receive an email, and you will have to click on the verify-in it, after which your email will be verified.
  • *After clicking on verifying, you  will reach the same home page of appsgeyser i.e. dashboard
  • *Now your mobile app is ready,  and you can download and install it, as soon as you click on Download Le below, you can see yours after a few minutes.

Friends, you must have now understood how you can create an Android app by following a very easy step in no time if you understand this method. If it feels easier, share this article, and comment.

Advantages of creating from  appsgeyser

  • *It’s absolutely free, there’s no charge of any kind
  • *You can create an app by following the step by step process from a few samples
  • *Creating an app on it is not a great task nor do you need a coding or special language to create an app in it.
  • *You can create your favorite app in it

ecommerce क्या है, E-Commerce के फायदे और नुकसान।

  ecommerce ,इंटरनेट या इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से सामान या उत्पादों को खरीदना और किसी को मनी ट्रांसफर करना या किसी को भी किसी भी प्रकार का डाटा शेयर करना या भेजना भी ecommerce कहलाता है .

  आजकल आप सभी ऑनलाइन शॉपिंग  करते हैं इसलिए आप जो ऑनलाइन शॉपिंग कर रहे हैं वह ही ecommerce है.  ecommerce मैं आप कच्चे माल से लेकर  तैयार माल तक को खरीद और बेच  सकते हैं. आजकल हमें सभी प्रकार की शॉपिंग या इंफॉर्मेशन ecommerce के द्वारा ही  प्राप्त होती है.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पढ़ने में अच्छा लग रहा है. तो प्लीज इसे शेयर कीजिएगा. और कमेंट जरूर कीजिएगा. और आगे पढ़ें.

this is a way for ecommerce website to buy anything.

ecommerce site in india

आज के समय में हमारा सभी काम या शॉपिंग करने का तरीका या किसी इंफॉर्मेशन को प्राप्त करने का तरीका , सभी e commerce पर शिफ्ट हो गया है. कुछ ऐसी e commerce टॉप साइट हम आपको बताएंगे, जिससे आप e commerce को समझ सकते हैं .

  • Amazon
  • Flipkart
  •  Myntra
  •  meeso
  • Snapdeal
  •  Paytm
  • BookMyShow
  • India MART
  •  Zomato
  • swiggy  instamart 
  • jio Mart
  •  groffers
  •  Big Bazaar
  •  Quikr
  •  Reliance Mart
  • OLX

ecommerce full form

electronics commerce

ecommerce कंपनियों से रुपए कैसे कमाए जा सकते है?

आज के समय में हम सभी ऑनलाइन माध्यम से अपने सभी कामों को कर रहे हैं ऐसे में हमारी  e commerce  वेबसाइट ऐसा माध्यम है जहां पर हम अपने सभी ऑनलाइन काम करते हैं. e commerce  वेबसाइट पर आप लाखों करोड़ों रुपया कमा सकते हैं e commerce वेबसाइट पर आप बिजनेस कर सकते हैं और अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते हैं e-commerce वेबसाइट या कंपनी  पर पैसे कमाने के 2 तरीके होते हैं

एक आप e commerce वेबसाइट पर अपने प्रोडक्ट को बेचकर व्यवसाय कर सकते हैं

किसी भी e commerce वेबसाइट पर अगर आप अपना प्रोडक्ट बेचना चाहते हैं और लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको यह सभी काम करने होंगे

  • सबसे पहले आप ecommerce वेबसाइट पर खुद को या स्वयं की प्रोडक्ट को सेलर के रूप में रजिस्टर करेंगे.
  • इसके बाद आपको कंपनी को जीएसटी नंबर पैन कार्ड बैंक अकाउंट्स अपने प्रोडक्ट की जानकारी या अपनी वेबसाइट जैसी कुछ साधारण चीज है देने होंगे.
  • e commerce वेबसाइट जिस पर आप जुड़ना चाहते हैं आपको उसमें इस प्रकार की फॉर्मेलिटीज कंप्लीट करके आप उस कंपनी की वेबसाइट में लिस्ट हो जाएंगे।
  • इस प्रकार आप e commerce कंपनी  में रजिस्टर होने के बाद अपने प्रोडक्ट को बेच पाएंगे.

कुछ महत्वपूर्ण बातें e commerce वेबसाइट या कंपनी में अपना प्रोडक्ट बेचने के लिए

  • आप अपने प्रोडक्ट को किसी और e commerce वेबसाइट में देखने के लिए किसी थोक विक्रेता के साथ भी जुड़ सकते हैं
  • आप e commerce वेबसाइट पर अपने किसी लोकल प्रोडक्ट को या यूनिक प्रोडक्ट को बेचे जिससे आपको कम कंपटीशन मिलेगा और अच्छा लाभ प्राप्त होगा.
  • आपको e commerce वेबसाइट पर अपने प्रोडक्ट को दिखाने के लिए अच्छे फोटोग्राफर की जरूरत होगी,  जितनी अच्छी आपके e commerce प्रोडक्ट की  तस्वीरें होंगी,उतने लोग आपके प्रोडक्ट की ओर आकर्षित होंगे और आपको लाभ प्राप्त होगा.

अगर आपको यह आर्टिकल पढ़ने में अच्छा लग रहा है और आपको समझ में आ रहा है तो प्लीज इसे शेयर कीजिए।

दूसरा आप e-commerce वेबसाइट या कंपनी में एफिलिएट मार्केटिंग कर लाभ प्राप्त कर सकते हैं

Affiliate marketing क्या है

Affiliate मार्केटिंग एक किसी भी e-commerce वेबसाइट पर पैसे कमाने का बहुत आसान सा साधन है जिससे आप पैसा कमा अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते हैं वह भी बिना किसी इन्वेस्टमेंट के ।

इसके लिए आपको निम्न बातो को फॉलो करना होगा.

  • जिस e-commerce वेबसाइट पर आप एफिलिएट मार्केटिंग करना चाहते हैं उस e-commerce वेबसाइट पर सबसे पहले आपको एक एफिलिएट अकाउंट बनाना होगा । e-commerce वेबसाइट पर अकाउंट बना उतना ही आसान है जितना आसान फेसबुक अकाउंट बनाना है
  • ecommerce वेबसाइट पर आप अपना एफिलिएट अकाउंट बनाएंगे. ecommerce वेबसाइट में जाने के बाद आपको अपने प्रोडक्ट को सेलेक्ट कर, उसका लिंक कॉपी करना होगा. और उसे अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स जैसे फेसबुक, यूट्यूब, व्हाट्सएप,इंस्टाग्राम, टि्वटर, लिंकडइन,टेलीग्राम, आदि में शेयर करना होगा ।
  • जितने ज्यादा लोग आपके लिंक को क्लिक कर समान खरीदेंगे वह ecommerce वेबसाइट आपको प्रोडक्ट का 15%,20% ,या 50% , तक कमीशन देगी.
  • यह  कमीशन सीधे आपके e-commerce वेबसाइट से एफिलिएट अकाउंट में जाएगा।
  • इस  अकाउंट से आप इन पैसों को सीधे अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते हैं
  • यहां आपको इनकम यूएस डॉलर में होगी
  • $100 हो जाने के बाद ही आप इन पैसों को अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते हैं.

वर्तमान समय में सबसे ज्यादा अपडेट अकाउंट से कमाई होने वाली इकॉमर्स वेबसाइट अमेजॉन,फ्लिपकार्ट, आदि हैं

इस प्रकार आप ecommerce वेबसाइट पर  एफिलिएट अकाउंट बनाकर लाभ प्राप्त कर सकते हैं

ecommerce advantages and disadvantages

ecommerce advantages

किसी भी कॉमर्स वेबसाइट पर अकाउंट बनाने से पहले आपको उस वेबसाइट की, सभी लाभ और हानि को जानना जरूरी है

  • ecommerce वेबसाइट पर आपको प्रोडक्ट की क्वालिटी अच्छी और प्राइस कम होता है
  • ecommerce वेबसाइट पर आप नेशनल, इंटरनेशनल,और घरेलू, सभी प्रकार की मार्केटिंग कर सकते हैं और डिमांड बढ़ा सकते हैं
  • ecommerce में बहुत बड़ा मार्केट है आप अच्छा लाभ कमा सकते हैं.
  • ecommerce वेबसाइट में लाभ के अधिक चांस रहते हैं और यह बिजनेस आप किसी भी स्थान से कर सकते हैं.
  • e-commerce वेबसाइट पर आप 24 घंटे 24 * 7 बिजनेस कर सकते हैं और लाभ कमा सकते हैं

ecommerce disadvantages

  • ecommerce वेबसाइट पर आओ अपने कंपटीशन को अच्छे से नहीं समझ पाएंगे.
  • किस प्रकार की मार्केट ecommerce में ज्यादा रहेगी इसका अनुमान लगा पाना थोड़ा मुश्किल होता है.
  • कुछ कस्टमर को या समझने में दिक्कत होती है कि वह e-commerce वेबसाइट या कंपनी में कैसे पैसा से खरीदारी करें।
  • सभी कस्टमर सभी ecommerce वेबसाइट पर भरोसा नहीं करते हैं.
  • ecommerce वेबसाइट पर आप बिजनेस को बढ़ावा तभी दे सकते हैं जब आपके आसपास  इंटरनेट हो। यहां शॉपिंग भी इंटरनेट के माध्यम से ही की जाती है.
  • अगर आप ऐसे स्थान पर रहते हैं जहां  इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध नहीं है वहां पर आपको इस बिजनेस मै हानि हो सकती है.

e-commerce वेबसाइट में इन्वेस्टमेंट

अगर आप अपने प्रोडक्ट को e-commerce वेबसाइट में देखना चाहते हैं तब आपका अपने प्रोडक्ट को बनाने में थोड़ा खर्चा । और आप कोई इकॉमर्स वेबसाइट पर रजिस्टर करने में थोड़ा खर्चा आएगा जिसको आप बिना डरे इन्वेस्ट कर सकते हैं और लाभ ले सकते हैं ।

अगर आप e-commerce वेबसाइट में एक एफिलिएट की तरह बिजनेस करना चाहते हैं तो आपको इसमें कुछ भी खर्च नहीं आने वाला है और आप लाभ कमा सकते हैं.

दोस्तों अब आपको समझ में आ गया होगा कि आप कैसे. e-commerce वेबसाइट में बिजनेस कर सकते हैं और किस प्रकार आप पैसा कमा सकते हैं.अगर आपको यह आर्टिकल पढ़ने में अच्छा लगा तो प्लीज़ शेयर कीजिए और कमेंट कीजिए ।

READ IN ENGLISH

what is ecommerce

Ecommerce is also known as buying goods or products through the Internet or electronic means and transferring money to someone or sharing or sending any kind of data to anyone.

Nowadays you all shop online so what you are shopping online is eCommerce.  From raw materials to finished goods you can buy and sell. Nowadays we get all kinds of shopping or information through eCommerce only.

If you like to read this article of ours. So please share it. And I’ll definitely comment. Read more.

ecommerce site in India

In today’s time, all our work or way of shopping or how to get information has all shifted to e-commerce.

  • Amazon
  • Flipkart
  •  Myntra
  •  meeso
  • Snapdeal
  •  Paytm
  • BookMyShow
  • India MART
  •  Zomato
  • swiggy  instamart 
  • jio Mart
  •  groffers
  •  Big Bazaar
  •  Quikr
  •  Reliance Mart
  • OLX

ecommerce full form

electronics commerce

how to earn money from ecommerce

In today’s time we are all doing all our work online, so our  e-commerce website is the medium where we do all our online work.  On ecommerce website you can earn millions of crores of rupees  On eCommerce website you can do business and make a good profit There are 2 ways to earn money on the e-commerce  website or company.

One you can do business by selling your product on the e-commerce  website

#On any ecommerce website if you want to sell your product and get a profit then you have to do all this work.

  • First of all, you will register yourself or your own product as a seller on the eCommerce  website.
  • After this, you will have to give the GST number pan card bank accounts to the company, your product information or some simple thing like your website.
  • By completing these types of formalities in the e-commerce website you want to join, you will be listed in that company’s website.
  • This way you will be able to sell your product after registering with the e-commerce company.

A few important things to do to sell your product on an e-commerce website or company

  • You  can also connect with a wholesaler to see your product on another eCommerce website
  • You sell one of your local products or unique products on the ecommerce website, which will give you less competition and get good returns.
  • You will need a good photographer to show your product on the ecommerce  website, the better the pictures of your ecommerce   product, the more people will be attracted to your product and you will get the benefits.

If you like reading this article and you understand, please share it.

And secondly, you can get affiliate marketing tax benefits on the ecommerce  website or company.

What is Affiliate Marketing?

Affiliate marketing is a  very easy way to earn money on any e-commerce website so that you can earn money and get the good profit too without any investment.

For this, you have to follow the following things.

  • On the e-commerce website on which you want to do affiliate marketing, you have to create an affiliate account.  Creating an account on an e-commerce website is as easy as creating a Facebook account.
  • You will create your affiliate account on the e-commerce website.  After going to the e-commerce  website, you will have to select your product and copy its link and share it on your social media accounts such as Facebook, YouTube,  WhatsApp, Instagram, Twitter, LinkedIn, Telegram, etc.
  • The more people click your link and buy the same, the more e-commerce websites will give you a commission of up to 15%, 20% of the product, or 50%.
  • This commission will go directly from your e-commerce website to the affiliate account.
  • From this account, you can transfer this money directly to your bank account
  • Here you will have income in US dollars
  • You can transfer this money to your bank account only after you have made $100.

The most updated eCommerce websites at the present time are Amazon, Flipkart, etc.

Thus you can get benefits by creating an affiliate account on the e-commerce  website

Business: 7 Reasons To Work For Yourself

e-commerce advantages and disadvantages

e-commerce advantages

Before creating an account on any commerce website,  you need to know all the advantages and disadvantages of that website.

  • On the e-commerce website, you get the quality of the product good and the price is low.
  • On the e-commerce website, you can do all kinds of marketing, national, international, and domestic,  and increase demand.
  • Ecommerce has a huge market you can make good profits.
  • Live more chance of profit in the e-commerce website and this business can do you from any location.
  • On the e-commerce website, you  can do business 24×7 24×7 and earn profit 24 hours  a day

eCommerce disadvantages

  • Come to the e-commerce website and won’t understand your competition well.
  • It’s a little difficult to predict which type of market will be more in e-commerce.
  • Some customers have difficulty understanding how to shop with money on an e-commerce website or company.
  • Not all customers trust all e-commerce websites.
  • On the e-commerce website, you can promote business only if you have internet around you. Shopping here is also done through the internet.
  • If you live in a place where an internet facility is not available, you may lose in this business.

Investing in e-commerce websites

If you want to see your product on the e-commerce website, then you have to spend a little to make your product. And it will cost you a little to register on an e-commerce website that you can invest in and take advantage of without fear.

If you want to do business as an affiliate on an e-commerce website, then it is not going to cost you anything and you can earn a profit. 

Friends, now you must have understood how you are. You can do business in the e-commerce website and how you can earn money. If you liked reading this article, please share and comment.

READ MORE

Holi business 2023 | free festival business idea

होली का त्यौहार बसंत ऋतु में मनाया जाने वाला एक महत्वपूर्ण त्यौहार है. जो भारतीय और नेपाली लोगों का त्यौहार है. कैसे आप होली त्यौहार को Holi business बना सकते हैं,जानेंगे इस आर्टिकल में.

Holi business क्या है

होली बिजनेस होली के सामान को बेचा जाना ही Holi business है. holly business में दूसरा बिजनेस मिठाई और गुजिया आदि बेचा जाना भी Holi business है.

Holi business idea

Holi business कैसे शुरू करें

होली  बिजनेस को आप होली के त्यौहार पर, होली के सामान का होलसेल का काम करके, या रिटेल का काम करके शुरू कर सकते हैं

होली त्यौहार पर होली सामान की और डिमांड रहती है.जिससे आप Holi business को आसानी से कर सकते हैं. तथा अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते हैं.  Holi business में आप होली सामान जैसे स्प्रे फॉर्म पाउडर कलर लिक्विड कलर रंग और गुलाल की काफी सारी वैरायटी को अपने गांव मोहल्ले या शहर में होलसेल या रिटेल के रूप में बेचकर होली बिजनेस कर सकते हैं.

Holi business के लिए स्थान का चुनाव

  • अगर आप  Holi business शुरू करने का सोच रहे हैं. तो आप होली बिजनेस के लिए स्थान का चुनाव जरूर करेंगे. ऐसे मैं आपको ध्यान रखना होगा कि आप किस प्रकार स्थान का चुनाव करते हैं.
  • अगर आप एक छोटे लेवल पर Holi business करना चाहते हैं. तो आप होली का सामान को अपने गांव मोहल्ले में बेचकर होली का व्यवसाय कर सकते हैं.और अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते हैं.
  • अगर आप Holi business को रिटेलर के रूप में नहीं कर होलसेल के रूप में करना चाहते हैं. तो आप holly business के लिए स्थान का चुनाव एक किसी स्टोर पर कर सकते हैं. तथा किसी मार्केट में कर सकते हैं.  जहां पर लोगों का आना जाना और वाहनों का आना-जाना आसान हो। जो आपकी होली बिजनेस को लाभ प्राप्त करने में सुविधा प्रदान करेंगे.
  • Holi business के लिए स्थान का चुनाव ऐसे स्थान पर करें जहां पर अधिक से अधिक मात्रा में लोगों का आना जाना हो. जो अधिक से अधिक मात्रा में. आपका होली समान खरीद कर ले जाएं जो आपके बिजनेस में अच्छा लाभ देगा.

Holi business के लिए इन्वेस्टमेंट

Holi business के लिए इन्वेस्टमेंट आपके हो holly business के आकार पर निर्भर करती है. क्योंकि Holi business पर आप किस प्रकार के प्रोडक्ट और बब्रांड के प्रोडक्ट पर बिजनेस करते हैं यह इन्वेस्टमेंट पर ही डिपेंड करता है. साधारण तौर पर आप होली  बिजनेस को कम से कम इन्वेस्टमेंट के साथ या अधिक इन्वेस्टमेंट दोनों में से किसी भी कंडीशन में शुरू कर सकते हैं.

Holi business के लिए जरूरी चीजें

Holi business के लिए आपको किसी विशेष चीज की जरूरत नहीं है. या किसी विशेष मशीनी उपकरणों की जरूरत नहीं होती है.

holly business में आप साधारण तौर पर एक इन्वेस्टमेंट और शॉप या आपका समान का गोदाम और एक जीएसटी नंबर की जरूरत होती है

Holi business करने के लाभ

Holi business भारत और नेपालियों के लिए अधिकतम लोकप्रिय बिजनेस है. क्योंकि यह भारत और नेपाल में बड़ा पर्व माना जाता है.

Holi businessहिंदुस्तान मैं अधिक जाना माना और लाभ देने वाला बिजनेस है क्योंकि यह भारत का प्रमुख त्योहारों में से  एक त्यौहार है

होली त्यौहार को बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है. और एक दूसरे पर  रंग लगाया जाता है. इस प्रकार की बहुत सारी एक्टिविटी इस त्योहार पर की जाती हैं. इसलिए होली पर Holi business करना आसान और अच्छा लाभ कमाना उचित होता है. और साथ ही बहुत से लोग लाखों रुपया कमाते भी हैं.

होली प्रोडक्ट पर आप अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते हैं आप किसी भी प्रोडक्ट पर कम से कम 50 से 60 % लाभ कमा सकते हैं और Holi business कर सकते हैं.

Holi business मैं हानि

Holi business में हानी यह है कि यह एक वर्ष में एक बार किया जाने वाला बिजनेस है. जो बिजनेस साल में आप एक बार करेंगे और लाभ प्राप्त करेंगे.

Holi business में अगर आप का होली का सामान होली पर्व पर नहीं बिक जाता है,  तो आपको पूरा एक साल और इंतजार करना होगा, और अपने सामान को भेजना होगा जिससे आपको  हानि हो सकती है.

Holi business के लिए मार्केटिंग

किसी भी बिजनेस का मार्केटिंग एक महत्वपूर्ण फैक्टर है.

आज के समय में आप holly business के लिए विभिन्न प्रकार के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर मार्केटिंग कर सकते हैं. या लोकल न्यूज़पेपर टीवी इत्यादि में भी मार्केटिंग कर सकते हैं. और विभिन्न माध्यमों पर ऐड चलाकर बी मार्केटिंग कर सकते हैं. जिससे कस्टमर आपकी दुकान पर पहुंचे । और आपको होली बिजनेस में लाभ प्राप्त हो।

read more…..

IN ENGLISH

The festival of Holi is an important festival celebrated in the spring season. Which is a festival of Indian and Nepalese people. How can you make holi festival a holly business, you will know in this article.

 What is holly Business?

holly business The sale of Holi goods is the whole business. The second business in the holly business is also the holly business to sell sweets and gujiyas etc.

How to Start a holly Business

You can start the Business of Holi on the festival of Holi, by doing wholesale work of Holi goods, or by doing retail work.

There is more demand for Holi items at the Holi festival, so you can easily do holly business. And can get good profit.  In holly business, you can do holly business by selling holi goods such as spray form powder color liquid color and many varieties of gulal as wholesale or retail in your village locality or city.

Choosing a location for Holi Business

  • If you are thinking of starting a holly business. So you will definitely choose the location for Holi business. So I have to take care of what kind of location you choose.
  • If you want to do holly business on a small level. So you can do the business of Holi by selling the goods of Holi in your village mohalla.
  • If you want to do holly as a wholesale and not as a retailer. So you can choose the location for Holi Business at a store. And can do it in a market.  Where it is easy for people to come and go and go by vehicles. Which will facilitate your holly business to get benefits.
  • Choose the location for holly business at a place where more and more people have to come. which in greater quantities. Buy your Holi same which will give good returns in your business.

Investing for Holi Business

Investment for holly depends on the size of your holly business. Because on holly business, what kind of product and brands product you do business on depends on the investment. In general, you can start the holly business with the least investment or more investment in either of the two conditions.

Things you need for Holi business

You don’t need anything special for the holly business. Or no special machine tools are needed.

Inholly business, you usually need investment and a shop or a warehouse of your goods and a GST number.

Benefits of Doing Holi Business

holly business is the most popular business for Indians and Nepalis. Because it is considered to be a big festival in India and Nepal.

holly business is a more well-known and profit-giving business in Hindustan as it is one of the major festivals of India

The Festival of Holi is celebrated with great pomp. And the color is applied to each other. A lot of such activities are done at this festival. Therefore, it is easy to do holly business on Holi and it is advisable to earn good profits. And at the same time, many people also earn millions of rupees.

You can get a good profit on Holi products, you can earn at least 50 to 60%  profit on any product and do holly business.

Holi Business  Loss

The disadvantage in The holly business is that it is a business done once a year. Which business you will do once a year and get the profit.

In the holly business, if your Holi goods are not sold at the Holi festival,  then you will have to wait for a full year more, and send your goods which can cause you a loss.

Marketing for Holly Business

Marketing of any business is an important factor.

In today’s time, you can do marketing for Holi’s business on a variety of social media platforms. Or you can also do marketing in local newspaper TV, etc. And can do B marketing by running ads on various mediums. So that the customer comes to your shop. And you get benefits in holly business.

What are the essential business skills and how to improve them?

Q1 holi 2022 date ?

friday18 ,march and satruday19, march

Q2 Where is Holi 2022?

This year Holi will be celebrated with great zeal and pomp across India

Q3 50000 में कौन सा बिजनेस करें?

50000 मे आप बहुत सारे बिज़नेस जेसे होली बिज़नेस ,होम gym, कोचिंग सेंटर,जूस की दुकान ,नाई की दुकान , और भी बहुत बिज़नेस कार सकते है . अधिक जानकारी के लिए vyapardhan.com पर जाये |